कमलनाथ कैबिनेट के मंत्री ने अधिकारी के पैर छूते हुए कहा, आप जैसे लोगों के कारण ही हम लोग चुनाव हारते हैं

AajNoida 03/01/2020 देश

 भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के अचानक अधिकारी के पैर छूकर हाथ जोड़ने के मामले ने सबको चौंका दिया। मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ग्वालियर शहर में आने वाले अपने विधानसभा क्षेत्र के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक ले रहे थे। इस दौरान जब उन्होंने स्वर्ण रेखा नदी में बह रहे सीवर की सफाई और बदनापुरा में भूमिपूजन पर सवाल उठाए तो अधिकारियों के जवाब सुन वे परेशान हो गए और प्रोजेक्ट प्रभारी शिशिर श्रीवास्तव के पैर ही छू लिए और हाथ जोड़कर कहा कि आप जैसे लोगों के कारण ही हम लोग चुनाव हारते हैं।

 
कमलनाथ कैबिनेट में मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर सिंधिया गुट के नेता है। पिछले दिनों उन्होंने सार्वजनिक रूप से ज्योतिरादित्य सिंधिया के पैर छूकर मीडिया की खूब सुर्खिया बटोरी थी। वही साफ सफाई को लेकर वह हमेशा ही समाचार पत्रों में छपते रहते है। वह कभी नाले में उतरकर फावडे से सफाई करते नज़र आते है तो कभी सरकारी कार्यालयों के टॉयलेट साफ करने लगते है। लेकिन इस स्वच्छता के लिए वह कभी एफआईआर तो कभी सस्पेंड या ट्रांसफर करने की हिदायत तक देते देखे जा चुके हैं। जब अफसरों पर इसका भी असर नहीं हुआ तो कुछ दिन पहले मंत्री खुद कमर से ऊपर तक भरे नाले में उतरकर फावड़े से सफाई करने लगे।
 
कमलनाथ कैबिनेट में मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर सिंधिया गुट के नेता है। पिछले दिनों उन्होंने सार्वजनिक रूप से ज्योतिरादित्य सिंधिया के पैर छूकर मीडिया की खूब सुर्खिया बटोरी थी। वही साफ सफाई को लेकर वह हमेशा ही समाचार पत्रों में छपते रहते है। वह कभी नाले में उतरकर फावडे से सफाई करते नज़र आते है तो कभी सरकारी कार्यालयों के टॉयलेट साफ करने लगते है। लेकिन इस स्वच्छता के लिए वह कभी एफआईआर तो कभी सस्पेंड या ट्रांसफर करने की हिदायत तक देते देखे जा चुके हैं। जब अफसरों पर इसका भी असर नहीं हुआ तो कुछ दिन पहले मंत्री खुद कमर से ऊपर तक भरे नाले में उतरकर फावड़े से सफाई करने लगे।
 
लेकिन शुक्रवार को समीक्षा बैठक के दौरान तो हद ही हो गई। जब अफसर के चलताऊ जवाब से खिन्न हुए मंत्री जी ने भरी मीटिंग में उठकर अफसर के पैर छू लिए। भरी बैठक में यह नजारा देख अधिकारी सख्ते में आ गए। सूत्रों की माने तो मंत्री ने अपनी विधानसभा के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में स्वर्ण रेखा नदी के प्रोजेक्ट अधिकारी शिशिर श्रीवास्तव से पूछा कि बदनापुरा में सीवर लाइन का उन्होंने भूमिपूजन किया। छह माह बाद भी वहां काम चालू नहीं हो सका है। जिस पर प्रोजेक्ट अधिकारी शिशिर श्रीवास्तव ने जल्द काम शुरू कराने की बात कही, इस पर मंत्री नाराज हुए। फिर उन्होंने पूछा कि स्वर्ण रेखा नदी में 6 माह से सीवर बह रहा है। पिछले माह 7 साल का रचित श्रीवास्तव नामक मासूम उसमें डूबकर मर गया। लेकिन आज तक सीवर बहना बंद नहीं हुआ। इस पर श्रीवास्तव ने जवाब दिया कि हर दिन 60 आदमी चोक सीवर लाइन की सफाई कर रहे हैं।
 
यह सुनते ही मंत्री ने कहा कि अभी सभी 60 आदमियों को बुलाने के लिए कहा जिसके बाद यह सुन निगमायुक्त संदीप माकिन, शिशिर श्रीवास्तव व विधानसभा के सीवर सेल प्रभारी आर.के. शुक्ला बगलें झांकने लगे। लेकिन गुस्से से तमतमाए मंत्री ने इसी दौरान अचानक कुर्सी से उठकर प्रोजेक्ट अधिकारी शिशिर श्रीवास्तव के पैर छूते हुए कहा- आप जैसे लोगों के कारण ही हम लोग चुनाव हारते हैं।