धोनी अपने करियर के अंतिम दौर में : कपिल

AajNoida 02/28/2020 खेल

 

 
नोएडा, भारतीय टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के करियर पर बयान देते हुए कहा है कि धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर के अपने अंतिम दौर में हैं।
38 वर्षीय धोनी पिछले साल इंग्लैंड में हुए आईसीसी विशअवकप के सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली हार के बाद से टीम से बाहर है और उन्होंने अभी तक मैदान पर वापसी नहीं की है। धोनी पिछले महीने शुरु होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चेन्नई के लिए खेलेंगे जिसके लिए वह मार्च के शुरुआत से तैयारी करेंगे।
हालांकि कपिल ने कहा कि आईपीएल भविष्य के खिलाड़ियों की पहचान करने के लिए है और इसमें युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलता है।
कपिल ने यहां गुरुवार को एक इवेंट में कहा,“मुझे लगता है कि वह अपने करियर के आखिरी दौर में हैं। मैं उनका प्रशंसक हूं और इसके नाते मैं उन्हें आईपीएल में खेलते देखना पसंद करुंगा लेकिन इसके साथ ही मेरी नजर युवा खिलाड़ियों पर भी होगी।”
उन्होंने कहा,“धोनी के प्रशंसक चाहते हैं कि वह उन्हें टी-20 विश्वकप में खेलता हुए देखें, लेकिन एक क्रिकेटर होने के नाते मुझे लगता है कि यह टीम प्रबंधन पर निर्भर करता है। टीम में चयन के लिए किसी भी खिलाड़ी के लिए कोई अलग चयनप्रक्रिया नहीं है।”कपिल ने कहा,“यह सिर्फ धोनी नहीं जो आईपीएल खेल रहे हैं। मैं आईपीएल में युवा खिलाड़ियों का खेल देखना पसंद करता हूं जो भविष्य की टीम का हिस्सा होंगे। मुझे लगता है कि धोनी टीम इंडिया और देश के लिए काफी कुछ कर चुके हैं।”
जसप्रीत बुमराह की खराब फॉर्म पर उन्होंने कहा कि वह इससे ज्यादा परेशान नहीं है। पूर्व कप्तान ने कहा,“जब आप चोट से उबर कर टीम में वापसी करते हैं तो आपको अपने फॉर्म में आने में कुछ समय लगता है। उन्होंने बड़े मैचों में अपनी प्रतिभा साबित की है और उनके लिए वापसी करना कोई बड़ी बात नहीं है।”
कपिल ने कहा,“एक बल्लेबाज के लिए एक अच्छी पारी उसकी फॉर्म लौटा सकती है लेकिन गेंदबाज के लिए एक अच्छा ओवर उसे वापसी कराता है। बुमराह को वापसी करने के लिए विकेट लेने की जरुरत है।”
टी-20 और वनडे में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले लोकेश राहुल को पहले टेस्ट में टीम से बाहर रखने पर उन्होंने कहा,“इसका जवाब सिर्फ टीम प्रबंधन ही दे सकता है। हम जो देख रहे हैं वो पूरी तरह अलग है। जब चयनकर्ता बैठक में जाते हैं तो वह सभी चीजों को देखते हुए टीम का चयन करते हैं।”
भारतीय महिला टीम के टी-20 विश्वकप में प्रदर्शन पर कपिल ने कहा,“महिला टीम काफी शानदार प्रदर्शन कर रही है। यह ऐसा समय है जहां हम महिला टीम के प्रदर्शन और उनके खेल पर रुची लेने लगे हैं। महिलाओं को अवसर देने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के प्रति मेरा सम्मान और बढ़ गया है।”