भारत 10 विकेट से हारा, न्यूजीलैंड की 100वीं जीत

AajNoida 02/24/2020 खेल

 

 
 
वेलिंगटन,  विश्व की नंबर एक टेस्ट टीम भारत को अपने बल्लेबाजों के शर्मनाक समर्पण के कारण न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट मैच के चौथे ही दिन सोमवार को 10 विकेट की करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। मेजबान न्यूजीलैंड ने अपने इतिहास की 100वीं टेस्ट जीत दर्ज की और दो मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।
भारत ने चार विकेट पर 144 रन से अपनी पारी को आग बढ़ाया लेकिन उसके बल्लेबाज विकेट पर टिकने का कोई जज्बा नहीं दिखा सके और उसकी दूसरी पारी 191 रन पर सिमट गयी। न्यूजीलैंड को नौ रन का लक्ष्य मिला जो उसने 1.4 ओवर में बिना कोई विकेट खोये नौ रन बनाकर हासिल कर लिया। न्यूजीलैंड को इस जीत से आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में 60 अंक हासिल हुए जबकि भारत को चैंपियनशिप में पहली बार हार का सामना करना पड़ा।
तेज गेंदबाज टिम साउदी ने 61 रन पर पांच विकेट और ट्रेंट बोल्ट ने 39 रन पर चार विकेट लेकर भारतीय पारी को तहस-नहस कर दिया। भारत ने चौथे दिन अपने शेष छह विकेट मात्र 47 रन जोड़कर गंवा दिए। मैच में कुल नौ विकेट लेने वाले साउदी को प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला।
न्यूजीलैंड ने इस तरह भारत के खिलाफ तीसरी बार टेस्ट मैच में 10 विकेट से जीत हासिल की। न्यूजीलैंड ने इससे पहले 1989/90 में क्राइस्टचर्च में और 2002/03 में वेलिंगटन में भारत को 10 विकेट से हराया था।
 
 
भारत ने चार विकेट पर 144 रन से आगे खेलना शुरू किया और उम्मीद थी कि नाबाद बल्लेबाज उपकप्तान अजिंक्या रहाणे और हनुमा विहारी कुछ संघर्ष करेंगे लेकिन शीर्ष क्रम की तरह उन्होंने भी निराश किया। रहाणे ने 25 और हनुमा विहारी ने 15 रन से अपनी पारी को आगे बढ़ाया।
भारत के खाते में अभी चार रन जुड़े ही थे कि बाएं हाथ के तेज गेंदबाज बोल्ट ने रहाणे को विकेटकीपर बीजे वाटलिंग के हाथों कैच कराकर भारत को पांचवां झटका दे दिया।
रहाणे ने 75 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 29 रन बनाये। हनुमा अपने कल के स्कोर में कोई इजाफा नहीं कर सके और साउदी की गेंद पर बोल्ड हो गए। हनुमा ने 79 गेंदों पर दो चौकों के सहारे 15 रन बनाये। ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन चार रन बनाकर साउदी की गेंद पर पगबाधा हो गए। भारत ने 14 रन के अंतराल में तीन विकेट गंवा दिए और उसका स्कोर सात विकेट पर 162 रन हो गया।
विकेटकीपर ऋषभ पंत ने इशांत शर्मा के साथ आठवें विकेट के लिए 26 रन जोड़े लेकिन इसके बाद तीन रन के अंदर भारत के शेष तीन विकेट निकल गए और भारत की पारी 191 रन पर सिमट गयी। कॉलिन डी ग्रैंड होम ने इशांत को पगबाधा किया जबकि साउदी ने पारी के 81वें ओवर में पंत और जसप्रीत बुमराह के विकेट निकालकर भारत को शर्मनाक शिकस्त की तरफ धकेल दिया।
पंत ने 41 गेंदों में चार चौकों की मदद से 25 रन और इशांत ने 21 गेंदों में दो चौकों के सहारे 12 रन बनाये। साउदी ने 21 ओवर में 61 रन पर पांच विकेट, बोल्ट ने 22 ओवर में 39 रन पर चार विकेट और ग्रैंड होम ने 16 ओवर में 28 रन पर एक विकेट लिया।न्यूजीलैंड को जीत के लिए नौ रन का लक्ष्य मिला जो उसने बिना कोई विकेट खोये 14 ओवर में हासिल कर लिया। टॉम लाथम सात और टॉम ब्लंडेल दो रन पर नाबाद रहे। इशांत और बुमराह ने एक-एक ओवर डाला लेकिन विकेट लेने में नाकाम रहे।
न्यूजीलैंड ने इस तरह अपने टेस्ट इतिहास की 100वीं जीत 41वें टेस्ट में जाकर हासिल कर ली। न्यूजीलैंड टेस्ट में 100 जीत हासिल करने वाला सातवां देश बन गया। न्यूजीलैंड ने भारत से टी-20 सीरीज 0-5 से गंवाने के बाद शानदार वापसी की और वनडे सीरीज 3-0 से क्लीन स्वीप करने के बाद पहला टेस्ट 10 विकेट से जीत लिया।
विराट कोहली की कप्तानी में यह दूसरा मौका है जब भारत ने पहले बल्लेबाजी की और उसे हार का सामना करना पड़ा। भारत इससे पहले इंग्लैंड के खिलाफ 2018 में लॉर्ड्स में पारी और 159 रन से हारा था।
मैच सवा तीन दिन के अंदर समाप्त हो गया। मेजबान टीम ने चौथे दिन पहले ही सत्र में भारतीय टीम का बैंड बजा दिया। हालांकि मैच के पहले दिन आखिरी सत्र और दूसरे दिन आखिरी सत्र का खेल खराब मौसम से प्रभावित रहा था।
भारत ने टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले अपने पिछले सात टेस्ट पारी या 200 रनों से अधिक के अंतर से जीते थे लेकिन वेलिंगटन में न्यूजीलैंड ने विराट कोहली एंड कंपनी के गुरूर को चकनाचूर कर दिया। भारत को आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में आठ मैचों में पहली हार का सामना करना पड़ा, हालांकि वह 360 अंकों के साथ शीर्ष पर बना हुआ है। न्यूजीलैंड की छह मैचों में यह दूसरी जीत है और वह 120 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर आ गया है।